Abhinav Kohli Claims Shweta Tiwari And Her Daughter Palak Tiwari Played Victim Card Through Instagram Post – पलक तिवारी ने ओपन लेटर लिखकर लगाया था अभिनव पर घरेलू हिंसा का आरोप, अब एक्टर ने पूछा

94 Views
Jun 14, 2020
पलक तिवारी ने ओपन लेटर लिखकर लगाया था अभिनव पर घरेलू हिंसा का आरोप, अब एक्टर ने पूछा- पोस्ट क्यों किया डिलीट?

श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) के पति अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) का पोस्ट हुआ वायरल

खास बातें

  • पलक तिवारी ने लगाया था अभिनव कोहली पर घेरलू हिंसा का आरोप
  • ओपन लेटर लिखकर कही थी ये बात
  • पिछले साल श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली थे काफी सुर्खियों में

नई दिल्ली:

टेलीविजन की मशहूर एक्ट्रेस श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) पिछले साल अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) के साथ अपने रिश्ते को लेकर काफी सुर्खियों में आईं थीं. दरअसल, एक्ट्रेस ने अपने पति पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए थे और साथ ही कहा था कि अभिनव ने उनकी बेटी पलक के साथ दुर्व्यवहार किया, हालांकि, बाद में पलक तिवारी ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से एक ओपन लेटर शेयर किया था (Palak Tiwari Instagram) , जिसमें उन्होंने कहा था कि अभिनव कोहली ने उनकी मां के साथ नहीं बल्कि उनके साथ दुर्व्यवहार किया. अब हाल ही में एक्टर अभिनव कोहली ने श्वेता और पलक को लेकर अपने इंस्टाग्राम से कुछ पोस्ट शेयर किए हैं, जिसमें उन्होंने पलक से यह सवाल किया है कि उन्होंने अपना वह पोस्ट डिलीट क्यों किया, जिसमें पलक ने उन पर दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया था. 

यह भी पढ़ें

पलक तिवारी (Palak Tiwari) का पोस्ट डिलीट होने क बाद अभिनव कोहली ने उनके इंस्टाग्राम का स्क्रीनशॉट साझा किया और पलक से सवाल किया कि आखिर उन्होंने वह पोस्ट क्यों डिलीट कर दिया. अभिनव (Abhinav Kohli) ने श्वेता और अपने बीच हुई बातचीत का भी एक स्क्रीनशॉट साझा किया, जिसे शेयर करते हुए उन्होंने लिखा था, “यह 12 अप्रैल 2020 को हुई हमारी बातचीत का स्क्रीनशॉट है, लवू, पलक तिवारी है. मैं विक्टिम हूं, विक्टिम कार्ड का.” 


अपने पोस्ट के जरिए अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) अपने फैन्स को अपना बेगुनाही समझाने की कोशिश कर रहे हैं. बता दें, पलक तिवारी (Palak Tiwari) ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा था, “सबसे पहले मैं आप सबको थैंक्यू कहना चाहूंगी कि आपने हमें सपोर्ट किया और अपनी सहानुभूति दर्शाई. दूसरा, मैं कुछ बातें बताना चाहूंगी. मीडिया के पास ना ही कोई फैक्ट होते हैं और न कभी होंगे. मैं पलक तिवारी कई बार दुर्व्यवहार का शिकार बनी हूं मेरी मम्मी नहीं…रीडर होने के नाते आप के लिए ये भूल जाना बहुत आसान होता है कि बंद दरवाजों के पीछे क्या हो रहा है और मेरी मां ने अपनी दोनों ही शादियों में कितना धैर्य रखा. आप किसी के घर के बारे में लिखते हैं और आप किसी की जिंदगी के बारे में डिस्कस कर रहे होते हैं…आप में से ज्यादातर लोग इस जघन्य अपराध से नहीं गुजरे, इसलिए आपको अपने विचार रखने और अपने दिमाग में कोई गलत खबर सुनकर किसी के लिए कोई इमेज बनाने का कोई अधिकार नहीं है.”


 



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *