Coronavirus: CM Arvind Kejriwal visits the largest Covid care center being built in South Delhi

126 Views
Jun 18, 2020
दक्षिण दिल्ली में बन रहा सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर, सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया दौरा

दिल्ली के छतरपुर में बनाया गया सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर.

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus: दक्षिण दिल्ली के छतरपुर इलाके में दिल्ली का सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर बन रहा है. दस हजार बेड की क्षमता वाला यह अस्थाई केंद्र राधा स्वामी सत्संग ब्यास की अपनी ज़मीन पर लगे विशाल शेडों में तैयार कराया जा रहा है. यहां बिना लक्षण वाले या हल्के लक्षण वाले मरीजों को ज़रूरत पड़ने पर रखा जाएगा.

यह भी पढ़ें

गुरुवार की शाम को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस सेंटर का दौरा किया. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘जिन कोरोना पॉजिटिव मरीजों को घर में रहने की सलाह दी जाती है, कई बार ऐसा होता है कि उनके घर में अलग कमरा नहीं होता या फिर अलग टॉयलेट नहीं होता, तो ऐसे लोगों के आइसोलेशन के लिए हमें व्यवस्था करनी पड़ती है. इसके लिए पूरी दिल्ली में हमने जगह-जगह कोविड केयर सेंटर बनाए हैं. हम उम्मीद करते हैं कि ये सेंटर जुलाई के पहले हफ्ते में बनकर तैयार हो जाएगा. जैसा कि हमने कहा था कि 30 जून तक 15000 बेड की जरूरत होगी और 15 जुलाई तक 30 हज़ार बेड की, तो उसी दिशा में ये कदम उठाए जा रहे हैं.’

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह भी बताया कि दिल्ली के होटलों को हॉस्पिटल के साथ अटैच करके करीब तीन हजार बेडों की व्यवस्था भी की जा रही है. आपको बता दें कि दिल्ली सरकार का आकलन है कि 31 जुलाई तक दिल्ली में कोरोना के 5.5 लाख मामले हो हो जाएंगे और उस समय 80 हज़ार बेडों की ज़रूरत पड़ेगी. ऐसे में दिल्ली सरकार सभी तरह की संभावनाओं पर काम कर रही है.

अरविंद केजरीवाल ने गृहमंत्री अमित शाह के साथ हुई मीटिंग को लेकर कहा कि ”गृहमंत्री से चर्चा हुई कि NCR को एक पूरी यूनिट के तौर पर कैसे बचाया जा सके. एनसीआर को अलग नहीं किया जा सकता, ये सब एक ही है. बाकी दोनों राज्यों के आसपास के इलाकों के डीएम को बुलाया गया था. एक तरह से NCR को कोरोना के लिए एक यूनिट मानना है.” 

दिल्ली में टेस्टिंग के दो बड़े फैसलों पर केजरीवाल ने कहा कि ”टेस्टिंग की वजह से दिल्ली में कुछ लोगों को तकलीफ हो रही थी. आज दिल्ली के लोगों के लिए खुशी की बात है कि दिल्ली में दो बड़े निर्णय हुए हैं. एक ये कि टेस्टिंग के रेट दिल्ली में 4500 से घटाकर 2400 कर दिए गए हैं. सभी लेबों से कह दिया गया है कि सब मैक्सिमम कैपिसिटी पर काम करेंगे. जितने ज्यादा से ज़्यादा टेस्ट कर सकते हैं बिना किसी बाधा के करेंगे. साथ ही रैपिड एंटीजन टेस्ट जो 15-30 मिनट में रिपोर्ट दे देता है, वो बहुत बड़े स्केल पर आज से दिल्ली में हज़ारों की संख्या में शुरू हो गए हैं. मुझे नहीं लगता कि अब दिल्ली के लोगों को टेस्टिंग को लेकर कोई दिक्कत होगी.”


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *