India-China Ladakh Border Dispute Latest News Live Update: 2 Soldier and One Army Officer Martyred – India-China Border News LIVE Updates: लद्दाख में हुई झड़प में कर्नल समेत 3 शहीद

140 Views
Jun 16, 2020

India-China Border News LIVE Updates: लद्दाख में हुई झड़प में कर्नल समेत 3 शहीद

India China Update: पिछले कुछ दिनों से तेज हो रहा था दोनों देशों के बीच का तनाव

India-China border news Updates: लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक टकराव के दौरान भारतीय सेना का एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए हैं. भारतीय सेना द्वारा यह जानकारी दी गई है. वहीं इस झड़प में चीनी सेना का भी खासा नुकसान हुआ है, जाकारी के अनुसार चीनी सेना के भी तीन से चार जवान इस झड़प में मारे गए हैं. लद्दाख इलाके में यह 1962 के बाद ऐसा पहला मौका है जब सैनिक शहीद हुए हैं. वहीं मिल रही है जानकारी के बाद इस घटना के बाद दोनों देशों के सैन्य अधिकारियों के बीच उच्च स्तरीय बैठक जारी है. आपको बता दें कि भारत-चीन के बीच सीमाओं को लेकर विवाद है. दोनों देशों के बीच लाइन ऑफ कंट्रोल पर अधिकारिक बंटवारा नहीं हुआ है. लद्दाख में भारतीय सेना की ओर से निर्माण कार्य किया जा रहा है जिसको लेकर चीन ने आपत्ति जताई है. चीन का दावा है कि भारत उसके इलाके में निर्माण कर रहा है. 

चीनी पक्ष को भी हुआ है जानी नुकसान : चीन के सरकारी समाचारपत्र के संपादक ने कहा

भारत और चीन के सैन्य अधिकारी लद्दाख के गलवान घाटी पैदा हुए तनाव को सामान्य करने के लिए बातचीत कर रहे हैं

राजनाथ सिंह ने की बैठक
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लद्दाख में हुई घटना के बाद तीनों सेना प्रमुखों, विदेश मंत्री एस जयशंकर प्रसाद और CDS जनरल बिपिन रावत के साथ बैठक की. 

लद्दाख में गलवान घाटी चीन और भारतीय सैनिकों के बीच खूनी संघर्ष में दोनों पक्षों को नुकसान हुआ है

भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद चीन की प्रतिक्रिया
गलवन घाटी में हिंसक झड़प के बाद चीन ने “भारत से एकतरफा कार्रवाई करने  या तनाव बढ़ाने से बचने” को कहा है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने यह जानकारी दी. चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से यह टिप्पणी की गई है

लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ “हिंसक टकराव” के दौरान भारतीय सेना का एक अधिकारी और दो जवान शहीद, चीनी पक्ष को भी हुआ है खासा नुकसान, तीन से चार चीनी जवान भी इस झड़प में मारे गए हैं. 



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *