ISRO chief k sivan said 10 space mission Gagan yaan Chandra Yaan 3 affected due to Lockdown – लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए 10 अंतरिक्ष मिशन, गगनयान और चंद्रयान-3: ISRO प्रमुख

158 Views
Jun 24, 2020
लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए 10 अंतरिक्ष मिशन, गगनयान और चंद्रयान-3: ISRO प्रमुख

लॉकडाउन की वजह से अंतरिक्ष मिशन प्रभावित हुए हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए अंतरिक्ष मिशन
  • ISRO के प्रमुख के सिवन ने दिया यह बयान
  • ‘चंद्रयान-तीन समेत सभी अभियान प्रभावित हुए हैं’

नई दिल्ली:

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) प्रमुख के. सिवन ने बुधवार को कहा कि लॉकडाउन की वजह से अंतरिक्ष में मानव को भेजने और चंद्रयान-3 अभियान में देर होने के अलावा ऐसे 10 अंतरिक्ष अभियान ‘बाधित’ हुए हैं, जिनके इस साल होने की योजना थी. उन्होंने कहा कि इसरो अपने अंतरिक्ष अभियानों पर लॉकडाउन के प्रभाव का आकलन करेगा. ISRO प्रमुख ने बताया कि अंतरिक्ष एजेंसी ने इस साल 10 प्रक्षेपण की योजना बनाई थी.

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन कोविड-19 महामारी की वजह से सभी चीजें बाधित हो गईं. कोविड-19 संकट से निपटने के बाद हमें एक आकलन करना होगा.” सिवन ने कहा, ‘‘लॉकडाउन की वजह से गंगनयान प्रभावित होगा. सभी उद्योगों ने काम करना अभी शुरू नहीं किया है.” उन्होंने कहा कि पिछले कुछ महीने में अभियान का कार्य प्रभावित हो गया. ISRO प्रक्षेपण से जुड़े उपकरणों के उत्पादन के लिए निजी क्षेत्र पर निर्भर है. ISRO को उपकरण उपलब्ध कराने वालों में शामिल सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमईएस) भी लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

उन्होंने बताया, ‘‘चंद्रयान-तीन समेत सभी अभियान प्रभावित हुए हैं.” सिवन ने कहा, ‘‘हमें गगनयान पर लॉकडाउन के प्रभावों का आकलन करना होगा.” पिछले साल चंद्रयान-2 के चंद्रमा की सतह पर हार्ड लैंडिंग होने के बाद ISRO ने चंद्रयान-3 प्रक्षेपित करने की योजना बनाई थी, जिसे इसी साल चांद पर भेजा जाना था. गगनयान मिशन के तहत 2022 तक तीन भारतीयों को अंतरिक्ष में भेजा जाना है. इसके लिए चार अंतरिक्ष यात्रियों का चयन भी हो चुका है और वे रूस में प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं लेकिन यह भी लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुआ है.

VIDEO: लॉकडाउन का प्राइवेट स्कूलों पर पड़ रहा है असर

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *