PM Modi did not take the name of China in his speech, Rahul Gandhi attacked through Urdu poetry – पीएम मोदी ने अपने भाषण में नहीं लिया चीन का नाम, राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में किया वार

125 Views
Jun 30, 2020
पीएम मोदी ने अपने भाषण में नहीं लिया चीन का नाम, राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में किया वार

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के साथ जारी गतिरोध और गलवान घाटी  की स्थिति का जिक्र तक नहीं किया, जहां चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में हमारे 20 सैनिक मारे गए थे. देश में कोरोनावायरस संक्रमण के फैलने के बाद से यह छठी बार था जब प्रधानमंत्री से राष्ट्र के साथ बात की है. आज पीएम ने अनलॉक 2, वायरस सावधानियां और गरीबों के लिए योजनाओं पर ही बात की. हालांकि, उन्होंने चीन के गतिरोध पर अन्य मंचों पर दो बार बात की है, एक सर्वदलीय बैठक में और दूसरी बार रविवार को अपने मन की बात रेडियो के दौरान.  पीएम मोदी ने आज घोषणा की कि भारत के 80 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त अनाज वितरण योजना नवंबर के अंत तक दीवाली और छठ त्योहारों को कवर करते हुए बढ़ाई जाएगी.

यह भी पढ़ें

उन्होंने नागरिकों से मास्क पहनने और सामाजिक दूरियों का पालन करने का भी आग्रह किया क्योंकि देश आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू करना है. उन्होंने कहा कि 25 मार्च से देशव्यापी तालाबंदी के कारण लाखों लोगों की जान बच गई थी. यह हाल के महीनों में प्रधानमंत्री का सबसे छोटा संबोधन था, पीएम मोदी का 17 मिनट के भाषण ने कई लोगों को आश्चर्यचकित किया जोकि चीन या वायरस से युद्ध को लेकर किसी नाटकीय घोषणा की उम्मीद कर रहे थे.

पीएम मोदी के आज के भाषण की सबसे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आलोचना की, उन्होंन अपनी बात रखने के लिए उर्दू के एक शेर का सहारा लिया. ये वही शेर था जिसका इस्तेमाल कभी बीजेपी की दिवंगत नेता सुषमा स्वराज ने कांग्रेस पर निशाना साधने के लिए किया था. राहुल गांधी ने उर्दू शायर शहाब जाफरी के शेर को ट्वीट किया.

कांग्रेस पार्टी ने भी पीएम के भाषण की आलोचना की और कहा: “हमें 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के प्रतीकात्मक तरीकों से आगे बढ़ने की जरूरत है; हम चीन से अधिक आयात कर रहे हैं. क्या यह 20 बहादुरों के लिए अपनी जान गंवाने की प्रतिक्रिया है? हमें और अधिक निर्णायक फैसले और वास्तविक कदमों की आवश्यकता है.

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सत्तारूढ़ बीजेपी की तीखी आलोचना की, हालांकि, कोलकाता में एक प्रेस ब्रीफिंग में दोहराया: “हम चीन पर भारत सरकार के रुख का समर्थन करते हैं, हम इसे लागू करना चाहते है.”

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने भी ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधा है. 

 

 

महुआ मोइत्रा ने कहा, ‘सत्रह मिनट तक कमरे में पांडा के आसपास सतर्क होकर घूमती रही, क्यों पीएम जी अब कुछ काम की बात हो जाए’ 



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *