pm modi retaliates on india china violent face off says we can give fitting reply key takeaways from pm modi speech – भारत-चीन झड़प पर बोले PM मोदी- उकसाने पर हम सही जवाब देना जानते हैं, पढ़ें प्रधानमंत्री का पूरा भाषण

168 Views
Jun 17, 2020
भारत-चीन झड़प पर बोले PM मोदी- 'उकसाने पर हम सही जवाब देना जानते हैं', पढ़ें प्रधानमंत्री का पूरा भाषण

पीएम मोदी ने कहा कि भारत अपनी संप्रभुता की रक्षा करना जानता है.

खास बातें

  • भारत-चीन हिंसक झड़प पर पीएम मोदी का बयान
  • कहा- भारत उकसात नहीं लेकिन अपनी संप्रुभता की रक्षा करता है
  • पीएम ने कहा- हम सही जवाब देना जानते हैं

नई दिल्ली:

पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में जान गंवाने वाले भारतीय जवानों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि उनकी शहादत बेकार नहीं जाएगी. उन्होंने कहा कि भारत किसी को कभी उकसाता नहीं है, लेकिन अपनी संप्रभुता और अखंडता से भी कोई समझौता नहीं करता है. उन्होंने कहा कि, ‘भारत माता के वीर सपूतों ने गलवान वैली में हमारी मातृभूमि की रक्षा करते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया है. मैं देश की सेवा में उनके इस महान बलिदान के लिए उन्हें नमन करता हूं, उन्हें कृतज्ञतापूर्वक श्रद्धांजलि देता हूं. दुःख की इस कठिन घड़ी में हमारे इन शहीदों के परिजनों के प्रति मैं अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं. आज पूरा देश आपके साथ है, देश की भावनाएं आपके साथ हैं. हमारे इन शहीदों का ये बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा.’

यह भी पढ़ें

पीएम मोदी ने कहा, ‘चाहे स्थिति कुछ भी हो, परिस्थिति कुछ भी हो, भारत पूरी दृढ़ता से देश की एक एक इंच जमीन की, देश के स्वाभिमान की रक्षा करेगा. भारत सांस्कृतिक रूप से एक शांति प्रिय देश है. हमारा इतिहास शांति का रहा है.

भारत का वैचारिक मंत्र ही रहा है- लोकाः समस्ताः सुखिनों भवन्तु. हमने हर युग में पूरे संसार में शांति की, पूरी मानवता के कल्याण की कामना की है. हमने हमेशा से ही अपने पड़ोसियों के साथ सहयोग और मित्रता भाव से मिलकर काम किया है. हमेशा उनके विकास और कल्याण की कामना की है. जहां कहीं हमारे मतभेद भी रहे हैं, हमने हमेशा ही ये प्रयास किया है कि मतभेद विवाद न बनें. हम कभी किसी को भी उकसाते नहीं हैं, लेकिन हम अपने देश की अखंडता और संप्रभुता के साथ समझौता भी नहीं करते हैं. जब भी समय आया है, हमने देश की अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है, अपनी क्षमताओं को साबित किया है.’

पीएम ने आगे कहा, ‘त्याग और तितिक्षा हमारे राष्ट्रीय चरित्र का हिस्सा हैं, लेकिन साथ ही विक्रम और वीरता भी उतना ही हमारे देश के चरित्र का हिस्सा हैं. मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं, हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएंगा. हमारे लिए भारत की अखंडता और संप्रभुता सर्वोच्च है, और इसकी रक्षा करने से हमें कोई भी रोक सकता. इस बारे में किसी को भी जरा भी भ्रम या संदेह नहीं होना चाहिए. भारत शांति चाहता है, लेकिन भारत को उकसाने पर हर हाल में निर्णायक जवाब भी दिया जाएगा. देश को इस बात का गर्व होगा की हमारे सैनिक मारते-मारते मरे हैं. मेरा आप सभी से आग्रह है की हम दो मिनट का मौन रख के इन सपूतों को श्रद्धांजलि दें.’

बता दें कि पीएम ने 19 जून यानी शुक्रवार को चीन के साथ सीमा पर तनाव के मौजूदा हालात पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई है, जिसमें आगे की परिस्थितियों पर चर्चा की जाएगी.

वीडियो: चीन के साथ सीमा विवाद पर चर्चा के लिए पीएम मोदी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *