Prime Minister must strongly condemn Chinese incursion entire country stands by him Congress – चीनी घुसपैठ की खुलकर निंदा करें प्रधानमंत्री, पूरा देश साथ खड़ा है: कांग्रेस

145 Views
Jun 27, 2020
चीनी घुसपैठ की खुलकर निंदा करें प्रधानमंत्री, पूरा देश साथ खड़ा है: कांग्रेस

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन द्वारा हमारे क्षेत्र में घुसपैठ और कब्जा करने की खुल कर निंदा करें तथा देश को बताएं कि कब्जा करने वालों को पीछे हटाया जाएगा. पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि भारत की एक इंच जमीन भी चीन के कब्जे में नहीं जानी चाहिए. अपने क्षेत्र की रक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री के साथ पूरा देश खड़ा है. सिब्बल ने एक सवाल के जवाब में यह भी कहा कि उन्हें नहीं लगता कि कूटनीति और आर्थिक कदमों के माध्यम से इस मामले में सफलता मिलने वाली है.

यह भी पढ़ें

यह पूछे जाने पर कि क्या वह सैन्य कार्रवाई की पैरवी कर रहे हैं तो उन्होंने कहा, ‘‘मैं सैन्य कार्रवाई का संकेत नहीं दे रहा हूं. मैं सिर्फ त्वरित कार्रवाई यानी त्वरित समाधान की बात कर रहा हूं. फैसला सरकार को करना है.” उन्होंने वीडियो लिंक के माध्यम से संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने सर्वदलीय बैठक में कहा कि न कोई हमारी सीमा में घुसा है, और न ही हमारी किसी चौकी पर कब्जा हुआ. जबकि कई रक्षा विशेषज्ञ उपग्रहों के जरिए ली गई तस्वीरों के हवाले से कुछ और कह रहे हैं.”

सिब्बल ने दावा किया, ‘‘ चीनी सैनिकों ने गलवान घाटी के कई हिस्सों पर कब्जा कर लिया है. यह पहली बार है कि चीन ने पूरी गलवान घाटी पर दावा किया है. रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण स्थान वाई जंक्शन पर चीन के सैनिकों का कब्जा है. जिस स्थान पर हमारे जवान शहीद हुए, उसी जगह पर चीनी सैनिकों ने टैंट बना लिया है और दूसरे निर्माण कार्य कर लिए हैं.”

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री चीन की ओर से हमारे क्षेत्र में घुसपैठ की खुलकर निंदा क्यों नहीं करते? हम चाहते हैं कि प्रधानमंत्री चीन की इस घुसपैठ की निंदा करें. हम सब उनके साथ हैं.” कांग्रेस नेता ने आग्रह किया, ‘‘ प्रधानमंत्री जी आप देश को संबोधित करें और देश को कहें कि हमारी मातृभूमि पर कब्जा करने वालों को पीछे हटाकर रहेंगे. पूरा देश आपके साथ खड़ा रहेगा.”

 

भारत ने चीन को चेताया, ‘मौजूदा स्थिति को बदलने की कोशिश न करें’


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *