RJD opposes BJPs virtual rally in Bihar by beating the plates – बिहार में बीजेपी की वर्चुअल रैली का आरजेडी ने थालियां पीटकर विरोध किया

134 Views
Jun 7, 2020
बिहार में बीजेपी की वर्चुअल रैली का आरजेडी ने थालियां पीटकर विरोध किया

कटिहार में आरजेडी के कार्यकर्ता बीजेपी की रैली के विरोध में प्रदर्शन करते हुए.

पटना:

बिहार में भाजपा (BJP) की वर्चुअल रैली का आरजेडी (RJD) के कार्यकर्ताओं ने आज थाली पीटकर विरोध जताया. कटिहार में पार्टी के जिला अध्यक्ष अब्दुल गनी के नेतृत्व में राजद कार्यकर्ताओं ने मजदूरों को अपमानित करने के आरोप लगाते हुए नेता प्रतिपक्ष के आहवान पर बिहार सरकार और केंद्र सरकार पर जमकर बरसे. इस अवसर पर कटिहार बरारी विधायक नीरज यादव भी थाली पीटकर सरकार के खिलाफ अपना विरोध जताया.

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज एक वर्चुअल रैली को संबोधित किया. अमित शाह ने कहा कि ‘यह चुनावी रैली नहीं बल्कि कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे योद्धाओं के लिए है.’ गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार की वर्चुअल रैली की शुरुआत कोरोना वॉरियर्स का उत्साह बढ़ाते हुए किया. उन्होंने कहा कि मैं उन करोड़ों कोरोना वॉरियर्स को सलाम करना चाहता हूं जो अपनी जान जोखिम में डालकर वायरस से लड़ रहे हैं.

अमित शाह ने वर्चुअल रैली में कहा कि मैं उन करोड़ों कोरोना वॉरियर्स को सलाम करना चाहता हूं जो अपनी जान जोखिम में डालकर वायरस से लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत की राजनीति के इतिहास में पहली वर्चुअल रैली में उपस्थित बिहार के सभी कार्यकर्ता भाइयों और बहनों आप सभी का मैं भाजपा की ओर से स्वागत करता हूं. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद जब कांग्रेस पार्टी की नेता श्रीमती इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाकर लोकतंत्र का गला घोटने का प्रयास किया तब ये बिहार की जनता ने ही जेपी आंदोलन करके फिर से एक बार लोकतंत्र को स्थापित करने का काम किया. अमित शाह ने कहा कि बिहार की धरती ने ही पहली बार दुनिया को लोकतंत्र का अनुभव कराया. जहां महान मगध साम्राज्य की नींव डाली गई. इस भूमि ने हमेशा भारत का नेतृत्व किया है.

 

अमित शाह ने कहा कि ‘इस रैली का चुनाव से कोई संबंध नहीं है. भाजपा लोकतंत्र में विश्वास रखती है. कोरोना संकट में हम जन संपर्क के अपने संस्कार को भुला नहीं सकते. मैं भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जी को बधाई देता हूं कि 75 वर्चुअल रैली के माध्यम से उन्होंने जनता से जुड़ने का मौका दिया है.’ अमित शाह ने कहा कि ऐसी 75 और वर्चुअल रैली होंगी. उन्होंने कहा कि ये राजनीतिक दल के गुणगान गाने की रैली नहीं है. ये रैली जनता को कोरोना के खिलाफ जंग में जोड़ने और उनके हौसले बुलंद करने के लिए है.


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *