TV Actor Ashiesh Roy Discharge From Hospital Due To Lack Of Money Says I Dont Have Money – TV एक्टर आशीष रॉय ने आर्थिक तंगी के कारण ली हॉस्पिटल से छुट्टी, बोले

131 Views
Jun 11, 2020
TV एक्टर आशीष रॉय ने आर्थिक तंगी के कारण ली हॉस्पिटल से छुट्टी, बोले- मेरे पास उन्हें देने के लिए पैसे नहीं थे

आशीष रॉय (Ashiesh Roy) पैसों की कमी के कारण हुए हॉस्पिटल से डिस्चार्ज

खास बातें

  • टीवी एक्टर आशीष रॉय पैसों की कमी के कारण हुए डिस्चार्ज
  • एक्टर ने कहा कि मेरे पास पैसे नहीं थे कि उन्हें दे पाउं
  • इन दिनों घर पर रह रहे हैं एक्टर

नई दिल्‍ली:

‘ससुराल सिमर का’ के एक्टर आशीष रॉय (Ashiesh Roy) की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. दरअसल, एक्टर अपनी बीमारी के लिए कुछ दिनों पहले हॉस्पिटल में भर्ती थे, साथ ही उन्होंने आर्थिक तंगी के कारण लोगों से मदद की गुहार भी लगाई थी. वहीं, हाल ही में खबर आ रही है कि पैसों की कमी के कारण वह हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हो चुके हैं. ऐसा इसलिए, क्योंकि आर्थिक तंगी के कारण एक्टर हॉस्पिटल के ट्रीटमेंट का खर्च नहीं उठा पाए. इस बात को लेकर आशीष रॉय ने स्पॉट बॉय को इंटरव्यू दिया है, जिसमें उन्होंने बताया कि वे इस समय घर पर हैं और बहुत ही कमजोर महसूस कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

आशीष रॉय (Ashiesh Roy) ने अपने इंटरव्यू में कहा, “मैं इस समय घर पर हूं और बहुत ही कमजोर महसूस कर रहा हूं. यहां हाउस हेल्प हैं, जो मेरी देखभार कर रहे हैं. उड़ाने भी पूरी तरह से काम नहीं कर रही हैं, इसकी वजह से मेरी बहन यहां नहीं आ पाई. मुझे 24 मई को ही हॉस्पिटल से छुट्टी लेनी पड़ी, क्योंकि मेरे पास उन्हें देने के लिए पैसे नहीं थे. बिल 2 लाख रुपये का बना, जिसे मैंने किसी तरह से उन्हें देने की कोशिश की. मेरा डायलिसिस अभी भी जारी है और यह करीब 2 महीने तक ऐसा ही रहेगा.”

आशीष रॉय (Ashiesh Roy) ने इंटरव्यू में अपनी तबीयत के बारे में आगे बताया, “मैं हर वैकल्पिक दिन हॉस्पिटल चेकअप के लिए जाता हूं और वे 3 घंटे के डायलिसिस के लिए 2000 रुपये लेते हैं. एक ऐसा समय था, जब मुझे लगा कि अब मैं जीवित नहीं रहूंगा. लेकिन उम्मीद थी कि मैं नहीं मरुंगा. डायलिसिस अभी भी जारी है, लेकिन मेरे शरीर में अभी भी बहुत अधिक पानी है. समय के साथ मैं एक बेहतर स्थिति में होउंगा और अपने दम पर आगे बढ़ने में सक्षम हो जाउंगा.” एक्टर ने आगे ककहा कि मैंने यह सब करते हुए एक गरिमापूर्ण जीवन जिया है. नहीं सोचा था कि ऐसा भी एक दिन देखना पड़ेगा.

 


Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *